किसान आंदोलन के समर्थन में मंगलवार को बंद के मद्देनजर यूपी, दिल्ली, टनकपुर और हल्द्वानी के लिए देहरादून से रोडवेज की बसें नहीं चलेंगी।

उत्तरांचल रोडवेज कर्मचारी यूनियन ने बैठक कर यह फैसला लिया है। यह फैसला ड्राइवर, कंडक्टर, बस और सवारियों की सुरक्षा के तहत लिया गया है। दोपहर तक माहौल देखने के बाद बसों को रवाना किया जाएगा।

उत्तरांचल रोडवेज कर्मचारी यूनियन के प्रदेश महामंत्री अशोक चौधरी ने बताया कि बंद को देखते हुए सोमवार को बैठक बुलाई गई। बैठक में सर्वसम्मति से यह फैसला लिया गया है कि माहौल के चलते मंगलवार को सुबह उत्तर प्रदेश, दिल्ली, टनकपुर, हल्द्वानी के लिए बसें संचालित नहीं की जाएंगी।
सभी ड्राइवर और कंडक्टर को भी इसके लिए सूचित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि दोपहर तक सभी जगहों से माहौल का फीडबैक लेने के बाद ड्राइवर-कंडक्टर बस लेकर रवाना होंगे। अशोक चौधरी के मुताबिक, यह फैसला केवल सुरक्षा कारणों से लिया गया है।

कर्मचारी संयुक्त परिषद ने नहीं दिया समर्थन :
रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद ने किसान आंदोलन को समर्थन नहीं दिया है। परिषद के महामंत्री दिनेश पंत ने कहा कि संभावित बंद में रोडवेज कर्मचारी शामिल नहीं होंगे। परिषद से जुड़े सभी सदस्य रोजाना की भांति समय पर कार्यालय पहुंचकर काम करेंगे। इस संबंध में उन्होंने परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक को पत्र भी भेजा है। 

सिटी बस सेवा नहीं होगी प्रभावित:
देहरादून महानगर सिटी बस सेवा महासंघ के अध्यक्ष विजय वर्धन डंडरियाल का कहना है कि मार्च से ट्रांसपोर्ट व्यवसाय बंद है। ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों के समर्थन में तो न तो कोई राजनीतिक दल आया था, न ही कोई सामाजिक संगठन। न ही कोई किसान नेता आए।

किसानों के खातों में सरकार ने पैसा भेजा, लेकिन परिवहन व्यवसायी राह तकते रहे। मुश्किल हालात में उनके साथ कोई खड़ा नहीं हुआ। लिहाजा, हम भी किसी भी किसान या अन्य संगठन को अपना समर्थन नहीं देंगे। सिटी बस सेवा प्रभावित नहीं होंगी। 

ट्रक ऑपरेटर आज नहीं चलाएंगे अपने ट्रक:
देहरादून ट्रक ऑपरेटर्स ने भी किसानों के समर्थन में भारत बंद को अपना समर्थन दे दिया है। ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस के अध्यक्ष कुलतारन सिंह अटवाल की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह फैसला लिया गया। मंगलवार को ट्रकों का संचालन नहीं किया जाएगा। 

कुलतारन सिंह ने कहा कि मंगलवार को किसान संगठनों ने भारत बंद का आह्वान किया है। उन्होंने उत्तराखंड के ट्रक ऑपरेटर्स के उपाध्यक्ष अनुसूया प्रसाद उनियाल , महासचिव आदेश सैनी एवं प्रदेश प्रवक्ता अशोक ग्रोवर से आग्रह किया कि वह भी किसानों के भारत बंद को समर्थन दें।

प्रदेश में ट्रकों के व्यावसाय को एक दिन के लिए स्थगित रखें। मंगलवार को ट्रांसपोर्ट नगर में सभी ट्रांसपोर्ट ऑफिस, स्पेयर पार्ट्स की दुकान, मिस्त्री भी अपनी दुकानें बंद रखेंगे। शांतिपूर्वक प्रदर्शन करेंगे। बैठक में दीपक अग्रवाल, शिव कुमार गुप्ता, अमन रंधावा, जितेंद्र सिंह रंधावा, दलवीर सिंह कलेर, सरदार जसविंदर सिंह, शाहिद हुसैन, योगेश गंभीर, राजेंद्र धवन, हिमेश भटनागर, अशोक कुमार, राजेंद्र सिंह बिट्टू, सरदार सुरजीत सिंह, सरदार गुरप्रीत सिंह, मधुसूदन बलूनी आदि मौजूद रहे।

जिला प्रशासन ने भी किए पुख्ता बंदोबस्त :
किसानों के आंदोलन के तहत मंगलवार को आहूत भारत बंद को लेकर सुरक्षा एवं शांति व्यवस्था के मद्देनजर देहरादून जिला प्रशासन ने भी पुख्ता बंदोबस्त किए हैं। जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने जिले के सभी अपर जिला अधिकारी, उप जिलाधिकारियों और नगर मजिस्ट्रेटों को अपने-अपने क्षेत्रों में शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए ठोस कदम उठाने के निर्देश दिए हैं।

जिला अधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि किसी भी व्यक्ति को जबरन किसी प्रतिष्ठान या परिवहन के साधनों को बाधित नहीं करने दिया जाएगा। कोई अगर स्वेच्छा से अपने प्रतिष्ठान या वाहनों का संचालन बंद रखता है तो यह उनकी स्वेच्छा होगी। इसके अलावा अगर किसी ने भी जबरन किसी प्रतिष्ठान या वाहन आदि को बाधित करने की कोशिश की तो उसके खिलाफ नियमानुसार कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *