बिग ब्रेकिंग:- अब उत्तराखंड में तीन में कोरोना के डेल्टा प्लस का सब वेरिएंट एवाई .2 का संक्रमण मिला.

डेल्टा प्लस वेरिएंट की पुष्टि के लिए जुलाई में नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (एनसीडीसी) को भेजे गए 15 सैंपल में से तीन में डेल्टा प्लस का सब वेरिएंट एवाई .2 मिला है। इसमें दो गरमपानी और एक धारी का मरीज है। हालांकि, डेल्टा प्लस वेरिएंट किसी में नहीं मिला है। पॉजिटिव आए मरीजों के परिजन और संपर्क में आए लोगों के सैंपल भी लिए थे, लेकिन सभी की रिपोर्ट निगेटिव थी।सीएमओ डॉ. भागीरथी जोशी ने बताया कि डेल्टा प्लस वेरिएंट की जानकारी करने के लिए जून में सैंपल भेजे गए थे और राहत की खबर आई थी। किसी में डेल्टा प्लस वेरिएंट की पुष्टि नहीं हुई। अब जिन तीन मरीजों में एवाई .2 की पुष्टि हुई है, उनमें कोरोना के हल्के लक्षण थे। मरीज अब पूरी तरह से स्वस्थ हैं। तीनों के सैंपल फिर जांच के लिए भेजे जाएंगे। उन्होंने बताया कि मेडिकल कॉलेज के एमबीबीएस के छात्र-छात्राओं के सैंपल भी वेरिएंट की पुष्टि के लिए एनसीडीसी भेजे जाएंगे।नर्सिंग की कक्षाएं भी दो दिन के लिए बंद
मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस छात्र-छात्राओं के कोविड पॉजिटिव आने के बाद नर्सिंग की कक्षाएं भी दो दिन के लिए स्थगित कर दी गई हैं। नर्सिंग की छात्र-छात्राओं की भी कोविड जांच कराई जाएगी। 24 अगस्त को राजकीय मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस प्रथम वर्ष की छात्राएं कोविड पॉजिटिव आई थीं। इसके बाद छात्र-छात्राओं के सैंपल कराए गए और अभी तक 19 छात्र-छात्राएं कोविड पॉजिटिव निकल चुके हैं। एक महिला अटेंडेंट भी कोविड पॉजिटिव आई है।सोमवार को 150 लोगों के सैंपल कोविड जांच के लिए भेजे गए। राजकीय मेडिकल कॉलेज प्रबंधन को रिपोर्ट का इंतजार है। मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. अरुण जोशी ने बताया कि नर्सिंग की कक्षाएं भी दो दिन के लिए स्थगित कर दी गई हैं। नर्सिंग की लगभग ढाई सौ से अधिक छात्र-छात्राओं के सैंपल भी जांच के लिए भेजे जाएंगे। डॉ. जोशी ने बताया कि कर्मियों के सैंपल भी जांच के लिए भेजे जाएंगे। साथ ही डेल्टा प्लस वेरिएंट की पुष्टि के लिए एनसीडीसी को सैंपल भेजे जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *