ट्रैफिक पुलिस के दो दरोगाओं समेत सात निलंबित।

देहरादून में यातायात ड्यूटी से नदारद मिले ट्रैफिक पुलिस के दो दरोगा समेत सात कर्मचारियों को यातायात निदेशक केवल खुराना ने तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। ये सभी शहर के महत्वपूर्ण क्षेत्रों में तैनात थे और वहां जाम की स्थिति बनी हुई थी। निदेशक ने इस मामले में यातायात एसपी से पांच दिनों के भीतर रिपोर्ट मांगी है।

शहर में इस समय जगह-जगह निर्माण कार्य चल रहे हैं। लिहाजा, महत्वपूर्ण स्थानों पर भीड़ होने के चलते जाम की स्थिति बन जाती है। बावजूद इसके कुछ पुलिसकर्मी ड्यूटी में लापरवाही कर रहे हैं। यातायात निदेशक ने बुधवार शाम शहर के विभिन्न स्थानों का सीसीटीवी कैमरों से और स्थलीय निरीक्षण भी किया।

निरीक्षण में पाया गया कि इन स्थानों तैनात यातायात पुलिसकर्मी कहीं और खड़े हुए थे। स्थिति वहां और भी दूभर हो गई जहां  ट्रैफिक सिग्नल नहीं थे। सारी बातों को भूलाकर कई पुलिसकर्मी तो बूथ में आराम फरमाते मिले। जबकि, कुछ का तो अता पता ही नहीं था। सात महत्वपूर्ण स्थानों पर इस तरह का रवैया देखते हुए निदेशक ने सातों पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है। 

ड्यूटी स्थल और निलंबित कर्मचारी:
1.आराघर टी जंक्शन से फव्वारा चौक तक- दरोगा अनूप सिंह 
2. रिस्पना से विधानसभा- दरोगा द्वारिका प्रसाद
3. प्रिंस चौक से दून चौक तक- हेड कांस्टेबल लक्ष्मण सिंह 
4. सीएम आवास गेट- कांस्टेबल राजपाल 
5. लॉर्ड वेंकटेश कट- कांस्टेबल भरत सिंह 
6.ओरिएंट चौक- कांस्टेबल रणदीप कुमार 
7. आईजी कट- कांस्टेबल त्रिलोक 

कर्मचारियों को पहले भी चेतावनी दी गई है। दूसरे जिलों में कार्रवाई भी की गई है। लेकिन, ड्यूटी स्थल पर कई कर्मचारी यातायात ड्यूटी में लापरवाही बरत रहे हैं। निरीक्षण में पाया गया कि कई जगह तो कर्मचारी बूथ में आराम कर रहे थे। जबकि, उनकी चौराहे पर ड्यूटी थी। भविष्य में भी इस तरह की लापरवाही पर दंड दिया जाएगा।
-डीआईजी केवल खुराना, यातायात निदेशक।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *