करवा चौथ को लेकर बाजारों में रौनक बढ़ने लगी है।

करवाचौथ को लेकर बाजारों में रौनक बढ़ने लगी है। श्रृंगार के सामान से लेकर व्रत सामग्री दुकानों के आगे सजा दी गई है। सामान खरीदने के लिए बकायदा दुकानों में भीड़ लगनी भी शुरू हो गई है, जिससे दुकानदारों के चेहरों पर रौनक लौट आई है।

करवाचौथ पर्व के लिए डिजाइनर लहंगे और साड़ियों के अलावा लाल रंग की चूड़ियों की माग ज्यादा रहती है। कोरोना काल के चलते मंदी की मार झेल रहे बाजार को त्योहारी सीजन में अच्छे कारोबार की उम्मीद है। हालांकि अभी भी कोराना वायरस से बचाव और रोकथाम के लिए पूरी एहतियात बरती जा रही है। बाजार आने वाले लोगों को भी नियमों का पालन करना पड़ रहा है। इस बार त्योहारी सीजन में भले ही बाजार गुलजार न हुए हों लेकिन खरीदारी के लिए हर दुकानों में भीड़ जरूर देखी जा रही है। चार नवंबर को करवाचौथ का पर्व है। जिसको लेकर महिलाओं ने खरीदारी शुरू कर दी है। सुबह के समय बाजारों में चहल-पहल बढ़ गई है। महिलाओं के बाजारों में पहुंचने से दुकानदारों के चेहरे पर चमक आ गई है।
करवा चौथ को लेकर खरीदारी शुरू हो गई है। लोग शादी के लिए भी सामान खरीदने लगे हैं। व्यापारियों के लिए यह राहत की बात है।
– नवीन ओली, परचून व्यापारी

कोरोना के कारण दुकानदारी चौपट हो गई है। एक माह पूर्व तक बाजार में खरीदार नहीं मिल रहे थे। त्योहारी सीजन राहत भरा रहा है। करवा चौथ पर महिलाएं घरों से निकली हैं, जिससे बाजार में कुछ भीड़ दिख रही है।
-हरीश ओली, परचून व्यापारी

काफी दिनों के बाद बाजार में भीड़ दिख रही है, लेकिन गाव के लोग अभी पूरी तरह से बाजार नहीं आ रहे हैं। काम धंधे का सीजन चल रहा है। कुछ दिनों बाद बाजार में उछाल आने की उम्मीद लगाई जा रही है।
-योगेश मुरारी, कपड़ा व्यापारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *