चार धाम यात्रा में नहीं होगी ज्यादा रोक-टोक।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि कुंभ में कोरोना वायरस संक्रमण के संबंध में हाइकोर्ट और केंद्र की गाइड लाइन का पालन किया जाएगा, लेकिन श्रद्धालुओं में भय का वातावरण नहीं बनने दिया जाएगा। चार धाम यात्रा में ज्यादा रोक टोक नहीं होगी, लेकिन जिन शहरों और राज्यों में संक्रमण ज्यादा, उन्हें चिह्नित कर व्यवस्था बनाई जाएगी। आपको बता दें कि सीएम पत्रकारों से वर्चुअल तरीके से रूबरू हो रहे थे। इस दौरान उन्होंने ये भी दोहराया कि विकास कार्यों की गति धीमी नहीं पड़ने दी जाएगी।

चारधाम यात्रा (बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री) दस मई से शुरू होने जा रही है। 10 मई को श्री हेमकुंड साहिब के कपाट, 14 मई को गंगोत्री और यमनोत्री, 17 मई को केदारनाथ और 18 मई को बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि तय हुई है। 2020 के दौरान कोरोना संक्रमण अधिक होने के कारण यात्रा प्रभावित हुई, जिसके कारण इस बार अधिक श्रद्धालुओं के यात्रा पर आने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *