सीबीएसई के अधीन स्कूलों की इकलौती बेटी छात्राओं (सिंगल गर्ल चाइल्ड) के लिए खुशखबरी है।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के अधीन स्कूलों की इकलौती बेटी छात्राओं (सिंगल गर्ल चाइल्ड) के लिए खुशखबरी है। सीबीएसई पिछले साल की तर्ज पर इस बार भी इन छात्राओं को छात्रवृत्ति देने जा रहा है। छात्रवृत्ति आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

सीबीएसई की वेबसाइट पर नोटिफिकेशन जारी किया गया है। इसमें शर्त यह है कि छात्रा 10वीं पास हो। आवेदन की अंतिम तारीख 10 दिसंबर है। जबकि, रिन्युअल छात्राओं (पिछले वर्ष लाभ लेने वाली) को निर्धारित तिथि तक ऑनलाइन आवेदन करने के साथ ही आवेदन की हार्ड कॉपी सीबीएसई कार्यालय में 28 दिसंबर तक भेजना अनिवार्य होगा।
आवेदन सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट www.cbse.nic.in पर करें। वहीं, क्षेत्रीय कार्यालय सीबीएसई मुख्यालय से दिशा-निर्देश मिलने का इंतजार कर रहा है। कई स्कूलों ने छात्राओं को आवेदन की जानकारी देने भी शुरू की है।

यह है पात्रता:
– सिंगल गर्ल चाइल्ड का आशय है कि माता-पिता की इकलौती बेटी हो, बेटा नहीं होना चाहिए।
– छात्रा सीबीएसई से दसवीं पास हो और कम से कम 60 प्रतिशत अंक हासिल किए हों।
– 11वीं और 12वीं में स्कूल में उसकी ट्यूशन फीस 1500 रुपये से अधिक न हो।

ये प्रमाणपत्र हैं अनिवार्य:
-10वीं की मार्कशीट की फोटोकॉपी
– हिंदी या अंग्रेजी में अभिभावकों का शपथपत्र, जिसमें अभिभावक 10 रुपये के एफिडेविट में यह घोषणा करेंगे कि उनकी इकलौती बेटी है।
– यह एफिडेविट एसडीएम या जिला प्रशासन के किसी सक्षम अधिकारी से प्रमाणित हो।
– किसी भी बैंक का कैंसल चेक व बैंक पासबुक की प्रमाणित फोटोकॉपी।
– आवेदन में बैंक का नाम, अकाउंट नंबर, आरटीजीए, एनईएफटी आईएफएससी कोड जरूर हो।

सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट पर नोटिफिकेशन जारी हो चुका है। इसके बाद से स्कूल की पात्र छात्राओं को ऑनलाइन आवेदन की जानकारी दी जा रही है। एक-दो दिन में आवेदन शुरू किए जाएंगे। सीबीएसई क्षेत्रीय कार्यालय से दिशा-निर्देश मिलने का भी इंतजार है। इस योजना से बेटी जन्म को प्रोत्साहन मिलेगा।
– छाया खन्ना, अध्यक्ष, सीबीएसई सहोदय स्कूल कॉन्फ्लेक्स एवं प्रिंसिपल, स्कॉलर्स होम (जाखन)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *