कोरोना काल में प्रदेश में 67,824 नए मतदाता बन गए हैं।

निर्वाचन विभाग नवंबर और दिसंबर में विशेष मतदाता अभियान चलाने जा रहा है। एक जनवरी 2021 को 18 वर्ष की आयु पूरी कर रहे युवा इसके तहत अपने वोटर कार्ड बनवा सकते हैं। इसके अलावा वोटर आईडी में संशोधन भी कराया जा सकता है।

सचिवालय मीडिया सेंटर में मुख्य निर्वाचन अधिकारी सौजन्या ने बताया कि संशोधित निर्वाचन सूची का प्रकाशन कर दिया गया है। अब इस पर 15 दिसंबर तक आपत्तियों की सुनवाई होगी। उन्होंने बताया कि नए मतदाताओं के लिए 28 व 29 नवंबर और 12 व 13 दिसंबर को विशेष अभियान चलाया जा रहा है।

इस पर पांच जनवरी तक आपत्तियां सुनी जाएंगी। 15 जनवरी को अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन कर दिया जाएगा। ऐसे युवा, जिनकी आयु एक जनवरी को 18 वर्ष पूरी हो रही है, वह भी इस दौरान अपना वोट बनवा सकते हैं। सर्विस वोटर के लिए भी अंतिम सूची का प्रकाशन 15 जनवरी को ही किया जाएगा।

कोरोना काल में बढ़े मतदाता:
प्रदेश में सात फरवरी से 15 नवंबर के बीच कुल 67,824 नए मतदाता जुड़े हैं। इनमें 31623 पुरुष, 36187 महिला और 14 अन्य हैं। उत्तरकाशी में 307, चमोली में 94, रुद्रप्रयाग में 22, टिहरी में 575, देहरादून में 18265, हरिद्वार में 13522, पौड़ी में 1208, पिथौरागढ़ में 1508, बागेश्वर में 559, अल्मोड़ा में 2405, चंपावत में 519, नैनीताल में 9058, ऊधमसिंह नगर में 19582 नए मतदाता शामिल हैं।

इस अवधि में 37784 मतदाताओं के नाम मतदाता सूची से हटाए भी गए हैं। इनमें उत्तरकाशी में 197, चमोली में 165, रुद्रप्रयाग में 89, टिहरी में 1042, देहरादून में 11699, हरिद्वार में 5511, पौड़ी में 1110, पिथौरागढ़ में 1133, बागेश्वर में 257, अल्मोड़ा में 2173, चंपावत में 398, नैनीताल में 6468, ऊधमसिंह नगर में 7542 मतदाता शामिल हैं। 

93965 सर्विस वोटर:
16 नवंबर को प्रकाशित मतदाता सूची के हिसाब से प्रदेश में 93965 सर्विस वोटर हैं। इनमें उत्तरकाशी में 3384, चमोली में 10439, रुद्रप्रयाग में 5384, टिहरी में 5792, देहरादून में 9817, हरिद्वार में 2131, पौड़ी में 16241, पिथौरागढ़ में 14538, बागेश्वर में 4621, अल्मोड़ा में 7223, चंपावत में 3033, नैनीताल में 5422, ऊधमसिंह नगर में 5940 सर्विस वोटर शामिल हैं।

बूथों की संख्या में आई 212 की कमी:
प्रदेश में बूथों की संख्या में भी कमी आ गई है। दरअसल, निर्वाचन विभाग की ओर से कम मतदाता वाले बूथों को मर्ज करने और ज्यादा मतदाता संख्या वाले बूथों की संख्या में इजाफा करने की कार्रवाई की जा रही है।

उत्तरकाशी में पांच और चमोली में तीन मतदेय स्थल बढ़ाए गए हैं। जबकि देहरादून में 89, हरिद्वार में 94, पिथौरागढ़ व चंपावत में एक-एक, नैनीताल में 13, ऊधमसिंह नगर में 22 मतदेय स्थल कम किए गए हैं। मुख्य निर्वाचन अधिकारी सौजन्या के मुताबिक, अभी यह प्रक्रिया गतिमान है।

किस काम के लिए कौन सा फॉर्म भरें:
फॉर्म-6 : वोट बनवाने के लिए 
फॉर्म-8 : नाम, फोटो या अन्य विवरण की अशुद्धि दूर कराने के लिए 
फॉर्म-7 : अगर कोई मतदाता कहीं और शिफ्ट हो गया है या मतदाता की मृत्यु हो चुकी है, उसका नाम हटाने के लिए
फॉर्म-8 क : अगर किसी मतदाता का पता उसी विधानसभा में एक बूथ से दूसरे बूथ पर बदल गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *