शायरा बानो भाजपा में हुई शामिल..

तीन तलाक के खिलाफ आवाज उठाने वाली शायरा बानो शनिवार को भाजपा में शामिल हो गई। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने प्रदेश पार्टी कार्यालय में आयोजित एक सादे कार्यक्रम में उनको पार्टी में शामिल किया।

काशीपुर निवासी शायरा बानो ने 2016 में तीन तलाक के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में सबसे पहले जनहित याचिका दायर की थी। सुप्रीम कोर्ट ने इस पर फैसला दिया था। इसके बाद केंद्र सरकार ने तीन तलाक के खिलाफ कानून बनाया। तब से शायरा बानो देश दुनिया में एक चर्चित चेहरा बन गईं।
तीन तलाक के खिलाफ लड़ाई जीतने के बाद से ही शायरा बानो के भाजपा में शामिल होने की चर्चाएं थी। 2018 में तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट के समय उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाने की तैयारी हो भी गई थी। लेकिन उनकी सदस्यता टल गई।  
सूत्रों के अनुसार, केंद्रीय नेतृत्व के निर्देश के बाद प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत शुक्रवार को हल्द्वानी से अचानक देहरादून पहुंचे और शनिवार को शायरा बानो को पार्टी में शामिल कराया गया।

इस अवसर पर प्रदेश संगठन महामंत्री अजय कुमार, प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ. देवेंद्र भसीन, प्रदेश कोषाध्यक्ष पुनीत मित्तल, प्रदेश प्रवक्ता विनोद सुयाल, सह मीडिया प्रभारी सुनील सैनी, सोशल मीडिया संयोजक शेखर वर्मा भी मौजूद थे। काशीपुर की रहने वाली शायरा बानो एक सक्रिय सामाजिक कार्यकर्ता हैं और मुकदमा जीतने के बाद से उनकी खासी ख्याति हो गई है।

वह एमए और एमबीए हैं। शायरा को पार्टी में शामिल करके भाजपा अल्पसंख्यक वर्ग में अपनी पकड़ बनाने का प्रयास करेगी। शायरा का क्या चुनाव लड़ने का भी इरादा है, इस प्रश्न पर उनका कहना है कि अभी वह पार्टी में शामिल हुई हैं। पार्टी उन्हें जो जिम्मेदारी देगी, उसे निभाएंगी। 

मैं भाजपा की नीतियों से प्रभावित हूं। पार्टी की नीतियां लोक और राष्ट्रहित में है। पार्टी मुझे जो भी जिम्मेदारी देगी, उसका मैं निष्ठापूर्वक निर्वहन करूंगी।- शायरा बानो

शायरा का पार्टी में स्वागत है। उन्होंने जिस दृढ़ता से तीन तलाक मामले की उच्चतम न्यायालय में न्यायिक लड़ाई लड़ी, उसी प्रकार वह भाजपा के सिद्धांतों को आगे बढ़ाने का कार्य करेंगी। अल्पसंख्यक समुदाय में उनकी भूमिका बहुत महत्वपूर्ण होगी।- बंशीधर भगत, प्रदेश अध्यक्ष, भाजपा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *