त्यागी रोड से 64 अतिक्रमण हटाने के लिए 22 अक्टूबर तक का समय दिया गया है।

हाईकोर्ट के आदेश पर चल रहे अतिक्रमण हटाओ अभियान में सोमवार को त्यागी रोड से 64 अतिक्रमण हटाने के लिए 22 अक्तूबर तक का समय दिया गया है। पलटन बाजार में तकनीकी तौर पर फंसे तीन अतिक्रमण का भी निदान निकल गया है। यह मंगलवार को तोड़े जाएंगे। जबकि 592 अतिक्रमण देर रात तक हटा दिए गए। 

टास्क फोर्स के अध्यक्ष व नगर आयुक्त विनय शंकर पांडेय ने बताया कि त्यागी रोड के व्यापारियों को बृहस्पतिवार तक की राहत दी गई है। अगर वे अतिक्रमण नहीं हटाते हैं तो प्रशासन कार्रवाई करेगा। जबकि दिलाराम बाजार में 16 अतिक्रमण को लेकर सिंचाई विभाग से रिपोर्ट मांगी गई है। जिससे सरकारी जमीन से अतिक्रमण को हटाया जा सके। 

वहीं धार्मिक स्थलों के रूप में अतिक्रमण की संख्या 50 से अधिक बताई जा रही है।
ऐसे में जिला प्रशासन को इसे लेकर स्थिति स्पष्ट करने को कहा गया है। हालांकि बुधवार तक ऐसे अतिक्रमण हटाने को कहा गया है। एसडीएम सदर गोपाल राम बिनवाल ने बताया कि पलटन बाजार में नगर निगम के गिरासू भवन समेत तीन भवनों की हालत खस्ता है। जिसे लेकर रिपोर्ट मांगी गई थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि अतिक्रमण को तोड़ा जा सकता है। यहां मंगलवार से कार्रवाई होगी, जबकि पलटन बाजार के लगभग सभी अतिक्रमण हटाए जा चुके हैं।

अतिक्रमण हटाने में दोहरी नीति अपना रही सरकार : कांग्रेस
 सरकार की शह पर व्यापारियों की समस्याओं व अतिक्रमण को लेकर प्रशासन पर दोहरी नीति अपनाने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने उपजिलाधिकारी के माध्यम से जिलाधिकारी को ज्ञापन भेजा।

कांग्रेस के एससी विभाग के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक राजकुमार ने कहा कि जीएसटी लागू होने से लेकर कोरोना काल तक आम जनता और व्यापारी वर्ग को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। कोरोना काल में व्यापारी समेत सभी वर्गों के लोगों का काम-धंधा बंद हो गया। लोग परिवार का भरण-पोषण अच्छे से नहीं कर पा रहे हैं।

इस समय सरकार को व्यापारियों की समस्याओं से राहत के लिए नई योजनाएं लानी चाहिए थी लेकिन अतिक्रमण के नाम पर व्यापारियों को परेशान किया जा रहा है। पलटन बाजार और आसपास के बाजारों पर हुई तोड़फोड़ में भी पक्षपात किया जा रहा है। कई दुकानेें अधिकारियों व मंत्रियों के परिचितों की हैं, इसलिए उन्हें न तोड़ कर आम व्यापारियों की दुकानों को तोड़ा जा रहा है।

इस दौरान कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा, अमीचंद सोनकर, अजय बेनवाल, राजेंद्र खन्ना, पार्षद निखिल कुमार, सुनील बांगा, जहांगीर खान, राजेंद्र सिंह घई, विकास नेगी, रवि फुकेला, नवीन बेग, परवीन बांगा, राहुल कुमार, राजेश मित्तल आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *