सुप्रसिद्ध जागेश्वर धाम में 222 दिन बाद एक बार फिर से भौतिक पूजाएं शुरू हो गई हैं।

सुप्रसिद्ध जागेश्वर धाम में 222 दिन बाद एक बार फिर से भौतिक पूजाएं शुरू हो गई हैं। जिला प्रशासन ने ट्रायल के बाद भौतिक पूजा की अनुमति दे दी है। मंदिर में रविवार को नौ, सोमवार को 10 भौतिक पूजाएं हुईं। नई व्यवस्था के तहत एक दिन में 10 पूजाएं ही होंगी। पूजा में एक परिवार के चार सदस्य ही शामिल हो सकेंगे।  

कोविड-19 के चलते जागेश्वर धाम में 17 मार्च से भौतिक पूजा कराने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। श्रद्धालुओं को कोई दिक्कत न हो इसके मद्देनजर ऑनलाइन पूजा की व्यवस्था की गईं थीं। जागेश्वर मंदिर प्रबंधन समिति के प्रबंधक भगवान भट्ट ने बताया कि जिला प्रशासन ने शनिवार को ट्रायल किया। जिसके बाद जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया से अनुमति मिलने के बाद जागेश्वर मंदिर समूह में भौतिक पूजाएं शुरू हो गई हैं। 

 रूदाभिषेक केदार मंदिर के पास, पार्थिव पूजा और अन्य पूजाएं जागेश्वर भोग शाला और  हवन कुंड के पास की जाएंगी। पूजा हेतु श्रद्धालुओं की अधिकतम संख्या पूर्व में तय मानक के आधार पर होगी। किसी भी स्थिति में सदस्यों की संख्या बढ़ाई नहीं जाएगी।

यदि किसी भी पुजारी द्वारा तय सीमा से अधिक श्रद्धालुओं को एक साथ बैठाकर पूजा कराई जाती है तो संबंधित पुजारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।  पूजा  केवल एक पुजारी द्वारा कराई जाएगी। पूजा के दौरान केंद्र और प्रदेश सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के तहत पुजारी द्वारा टीका लगाना, कलावा बांधना या जल का छिड़काव पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेगा। 

पूजा के लिए पहले करानी होगी बुकिंग:  
जागेश्वर धाम में भौतिक पूजा कराने के लिए श्रद्धालुओं को पहले बुकिंग करानी होगी। दैनिक आधार पर पूजा सुबह 10 से दोपहर 3:30 बजे तक और बुकिंग सुबह 10 से अपराह्न 1:30 बजे तक होगी।

 श्रद्धालु पूजा की बुकिंग जागेश्वर मंदिर समिति के प्रबंधक के फोन नंबर 9760677235 या सीधे अपने परिचित पुजारी के माध्यम से कर सकते हैं। भौतिक पूजाओं के लिए चयनित स्थल का आवंटन पूर्व में बुकिंग पर पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर किया जाएगा। बुकिंग के लिए संबंधित पूजा की रसीद कटवानी आवश्यक होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *