सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत: दून अस्पताल में है भर्ती।

कोरोना से संक्रमित मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की तबीयत खराब होने पर रविवार देर शाम राजकीय दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सकों ने मुख्यमंत्री के फेफड़ों का सीटी स्कैन कराया है।

सीटी स्कैन में फेफड़ों में हल्का इंफेक्शन पाया गया है। खून संबंधी समेत अन्य जरूरी जांचें की गई हैं। विशेषज्ञ डॉक्टरों की देखरेख में मुख्यमंत्री का वीवीआईपी वार्ड में उपचार चल रहा है।

बता दें कि गत 18 दिसंबर को मुख्यमंत्री रावत की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जिसके बाद से वे होम आइसोलेशन में थे। विधानसभा सत्र में भी वह वर्चुअल रूप से शामिल हुए। इसके अलावा कई अन्य कार्यक्रमों में भी ऑनलाइन ही जुड़ रहे थे।

बताया जा रहा है कि शनिवार से उन्हें हल्का बुखार था। जिस पर रविवार को दून अस्पताल में उनकी खून की जांच व सीटी स्कैन कराया गया। सीटी स्कैन में फेफड़ों में हल्का इंफेक्शन पाया गया है। जिसके बाद उन्हें एहतियातन भर्ती कर दिया गया है।

विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम उनके स्वास्थ्य की देख रेख कर रही है। कोरोना के स्टेट को- ऑर्डिनेटर एवं अस्पताल के डिप्टी एमएस डॉ. एनएस खत्री ने मुख्यमंत्री के अस्पताल में भर्ती होने की पुष्टि की।

सिटी स्कैन में मुख्यमंत्री के फेफड़ों में हल्का इंफेक्शन मिला है लेकिन चिंताजनक बात नहीं है। 
-डॉ आशुतोष सयाना, प्रिंसिपल, दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल 

नैनीताल में कई दिग्गज निकले संक्रमित:
नैनीताल जिले में रविवार को कई दिग्गज कोविड पॉजिटिव मिले हैं। जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार मीणा की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्हें सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सुशीला तिवारी अस्पताल के कोविड-19 के नोडल अधिकारी और मेडिसिन विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ परमजीत सिंह भी कोविड की चपेट में हैं। उन्हें भी एसटीएस में भर्ती कराया गया है।

राजकीय मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी के प्राचार्य डॉ सीपी भैसोड़ा, उनकी पत्नी और उनकी सास भी संक्रमित हैं। राजकीय मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी के पूर्व प्राचार्य डॉक्टर आरसी पुरोहित की मां भी कोविड पॉजिटिव हैं। उनकी हालत गंभीर है। उन्हें आईसीयू में रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *