AIIMS ऋषिकेश में गरीब जनता से लूटा जा रहा है पैसा, सरकार की नाक के नीचे हो रहा है यह सब…..

27 अगस्त 2012 को AIIMS amendment bill लोकसभा में पारित हुआ, ओर 30 अगस्त 2012 को लोकसभा ने 6 नए AIIMS बनाने का बिल पास किया। इसके बाद 3 September 2012 को यह बिल राज्यसभा में रखा गया जहां राज्यसभा ने इस बिल को 4 September 2012 पारित कर दिया और यह 1 अध्यादेश बन गया। इसके तहत ऋषिकेश में 200 bed के AIIMS हॉस्पिटल बनाने की अनुमति मिली।

ऋषिकेश में AIIMS हॉस्पिटल की शुरुआत 10 February 2014  Union Health and Family Welfare Minister Ghulam Nabi Azad ने की थी.

“AIIMS ऋषिकेश में पार्किंग की पूरी सुभिधा है और सरकार ने इस पर काफी ध्यान भी दिया है आपको यहाँ पर टू व्हीलर पार्किंग के लिए १० रूपये प्लस १.८० रुपयऐ जी एस टी के साथ टोटल ११.८० रुपये देने होते हैं, वो इसलिए क्यूंकि यही पार्किंग स्लिप आपको बाइक पार्क करने के बाद दी जाती है जिसमें ये रेट पहले से तय हैं, कित्नु आपको यह जानकार हेरानी होगी की आपको ११.८० रूपए के बजाय ३० रुपये पार्किंग के लिए देने होंगे, यहाँ पर पार्किंग व्यवस्था देखने वाले आपसे ३० रुपये से कम नहीं लेने वाले, उस से ऊपर आपकी मर्ज़ी है”.

अब ये लोगों के साथ अन्याय नहीं है तो क्या है, या क्या ये जो अधिक मूल्य हमसे लिया जा रहा है उसमें सरकार का भी हाथ है या ये सिर्फ पार्किंग टेंडर वाले की जेब में जा रहे हैं.

पार्किंग रेट से भी दुगना रेट ऋषिकेश AIIMS हॉस्पिटल में लिया जा रहा है.

ये है ऋषिकेश AIIMS की पार्किंग स्लिप:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *