केंद्र ने दूसरे चरण के लिए मांगा फ्रंट लाइन वर्कर्स का डाटा।

कोरोना टीकाकरण अभियान के दूसरे चरण में फ्रंट लाइन वर्करों को टीका लगाया जाएगा। इसके लिए केंद्र सरकार ने उत्तराखंड से फ्रंट लाइन वर्करों का डाटा मांगा है। जिसमें कोविड ड्यूटी में तैनात पुलिस कर्मियों, सफाई कर्मियों, राजस्व समेत अन्य विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों का डाटा तैयार किया जा रहा है। 

प्रदेश सरकार ने कोरोना टीकाकरण के लिए पहले चरण की सभी तैयारियां पूरी कर ली है। केंद्र के दिशानिर्देशों के अनुसार पहले चरण में हेल्थ वर्करों को वैक्सीन लगाई जाएगी। राज्य में 87588 हेल्थ वर्करों को कोरोना टीका लगाया जाएगा।

वहीं, केंद्र ने दूसरे चरण में कोविड महामारी से जंग लड़ने वाले फ्रंट लाइन वर्करों को टीका लगाने के लिए डाटा मांगा है। जिसमें पुलिस, राजस्व व सफाई कर्मियों के साथ अन्य विभागों से कोविड ड्यूटी में तैनात कर्मचारियों को वैक्सीन लगाई जाएगी।

सचिव स्वास्थ्य अमित सिंह नेगी का कहना है कि दूसरे चरण में फ्रंट लाइन वर्करों को कोरोना टीका लगाया जाएगा। इसके लिए केंद्र ने डाटा मांगा है। संबंधित विभागों से कर्मचारियों का डाटा तैयार केंद्र को भेजा जाएगा। 

बता दें कि पहले चरण में उत्तराखंड के 13 जिलों में 132 अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों में कोरोना टीकाकरण का अभ्यास सफल रहा है। पूर्वाभ्यास में टीकाकरण के लिए चयनित 3160 स्वास्थ्यकर्मियों में से 2720 को टीके लगाए गए। जिसमें 116 में वैक्सीन का प्रतिकूल प्रभाव रिकॉर्ड किया गया। 

वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा के अनुसार उत्तराखंड में 41 सेंटरों से कोरोना टीकाकरण का आगाज किया जाएगा। इसके लिए सरकार ने टीकाकरण की पूरी तैयारी कर दी है।

कुंभ के लिए मांगी 20 हजार अतिरिक्त कोरोना वैक्सीन:
हरिद्वार में आयोजित होने वाले कुंभ मेले के लिए सरकार ने केंद्र से 20 हजार अतिरिक्त कोरोना वैक्सीन की मांग की है। इस संबंध में राज्य सरकार की ओर से केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को पत्र भेजा गया है। साथ ही केंद्र के साथ वैक्सीन के लिए संपर्क किया जा रहा है।

कुंभ मेले में कानून व्यवस्था के लिए हजारों पुलिस, होमगार्ड, पैरामिलिट्री फोस के जवान तैनात किए जाएंगे। इसके साथ ही अन्य व्यवस्था के लिए कर्मचारियों को कुंभ ड्यूटी में तैनात किया जाएगा। इन कर्मचारियों को कोरोना टीका लगाने के लिए सरकार ने अलग से वैक्सीन उपलब्ध कराने का आग्रह किया है। 

कोरोना वैक्सीन के शुभारंभ पर 41 केंद्रों पर होगी वेब कास्टिंग:
प्रदेश में कोरोना टीकाकरण के शुभारंभ पर 41 केंद्रों पर वेब कास्टिंग की जाएगी। दून और हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज में से किसी एक केंद्र पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाइव जुड़ सकते हैं। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण केंद्रों पर वेब कास्टिंग का इंतजाम कर दिया है। टीकाकरण अभियान शुरू होने से पहले 12 जनवरी को प्रदेश के सभी केंद्रों पर पूर्वाभ्यास किया जाएगा। 

उत्तराखंड में 16 जनवरी से कोरोना टीकाकरण की शुरूआत की जाएगी। इसके लिए सरकार ने अभियान के शुभारंभ के लिए 43 केंद्रों का चयनित किया है। इसमें 41 केंद्रों पर टीकाकरण की वेब कास्टिंग की जाएगी। जिससे केंद्र किसी भी सेंटर की लाइव मॉनीटरिंग कर सकेगा। वहीं, दून व हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज में बनाए गए टीकाकरण केंद्र में किसी एक केंद्र पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाइव जुड़ कर टीका लगवाने वाले हेल्थ वर्करों से संवाद कर सकते हैं। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग में व्यापक इंतजाम किए हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *