उत्तराखंड में गुरुवार को कोरोना संक्रमण के रिकॉर्ड मामले सामने आए।

प्रदेश में पहली बार 24 घंटे के अंदर 6251 नए संक्रमित मरीज आए हैं। वहीं, 85 मरीजों की मौत हुई है। साथ ही एक्टिव केस की संख्या भी 48 हजार पार हो गई है। आज 3129 मरीजों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। प्रदेश में अब तक 1 लाख 74 हजार 867 संक्रमित मरीज आ चुके हैं, जिसमें से 1 लाख 20 हजार 350 मरीज स्वस्थ हुए हैं।

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक गुरुवार को 28346 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। जबकि देहरादून जिले में सबसे अधिक 2207 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। वहीं, हरिद्वार जिले में 1163, नैनीताल में 673, ऊधमसिंह नगर में 827, पौड़ी में 253, टिहरी में 163, रुद्रप्रयाग में 150,  पिथौरागढ़ में 33, उत्तरकाशी में 195, अल्मोड़ा में 198, चमोली में 125, बागेश्वर में 107 और चंपावत में 157 संक्रमित मिले।

वहीं, प्रदेश में अब कंटेनमेंट जोन की संख्या  219 हो गई है। प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या  48318 पहुंच गई है। वहीं, अब तक 2502 मरीजों की मौत हो चुकी है।

अंतिम संस्कार में शामिल हुए एक ही परिवार के 18 लोग संक्रमित:
चमोली के थराली में त्रिकोट गांव में अंतिम संस्कार में शामिल हुए एक ही परिवार के 18 लोग कोरोना संक्रमित हो गए। अंतिम संस्कार में शामिल कुछ लोग तो लौट गए जबकि त्रिकोट निवासी सभी संक्रमितों को आइसोलेट कर दिया गया है।

त्रिकोट गांव निवासी के एक बुजुर्ग की नैनीताल में मौत हो गई थी। परिजन उसके शव को अंतिम संस्कार के लिए त्रिकोट गांव लेकर आए थे। कुछ दिन बाद एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित हुआ। उसके बाद सभी परिजनों के सैंपल लिए गए, जिसमें एक ही परिवार के 18 लोग संक्रमित मिले। उनमें से कुछ लोग अंतिम संस्कार के दूसरे दिन ही नैनीताल चले गए थे। जो लोग त्रिकोट गांव में हैं उन्हें होम आइसोलेशन में रखा गया है। 

सीएचसी थराली की प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. पूनम टम्टा ने बताया कि ग्वालदम में भी एसएसबी के 5 जवान संक्रमित मिले जबकि पांच दिन पहले भी ग्वालदम में एसएसबी के 17 जवान कोरोना संक्रमित मिले थे। वहीं सीएचसी थराली में रैपिड एंटीजन टेस्ट में 5 लोग कोरोना संक्रमित मिले। उन्हें होम आइसोलेशन में रखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *