इस साल विभाग में अधिकारियों की बंपर पदोन्नति होने जा रही है।

लंबे समय से प्रमोशन का इंतजार कर रहे शिक्षा विभाग के अफसरों के लिए नए साल में राहत की खबर है। इस साल विभाग में अफसरों के बंपर प्रमोशन होने जा रहे हैं। 11 उप शिक्षा अधिकारियों के खंड शिक्षा अधिकारी के पद पर प्रमोशन के लिए शिक्षा मंत्री अनुमोदन कर चुके हैं। जबकि उप निदेशक से अपर निदेशक स्तर तक के अधिकारियों के प्रमोशन के लिए शिक्षा महानिदेशालय की ओर से शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। 

शिक्षा विभाग में अधिकारियों के लंबे समय से प्रमोशन लटके हुए हैं। यही वजह है कि अधिकतर खंड शिक्षा अधिकारियों, जिला शिक्षा अधिकारियों, मुख्य शिक्षा अधिकारियों, उप निदेशक, अपर निदेशक के पदों पर प्रभारी अधिकारी कार्यरत हैं। प्रमोशन के लिए जून वर्ष 2019 से डीपीसी न होने से विभागीय अधिकारियों में इसे लेकर नाराजगी थी।

शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे के मुताबिक उप शिक्षा अधिकारी से खंड शिक्षा अधिकारी के पद पर प्रमोशन के लिए विभाग की ओर से 11 अधिकारियों के लिए अनुमोदन मांगा गया था। जिस पर अनुमोदन कर दिया गया है। वहीं अन्य अधिकारियों के भी शीघ्र प्रमोशन के निर्देश दिए गए हैं। 

शिक्षा महानिदेशालय में अपर निदेशक वंदना गर्ब्याल के मुताबिक महानिदेशालय की ओर से 31 उप शिक्षा अधिकारियों के खंड शिक्षा अधिकारी के पद पर प्रमोशन का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। इसके अलावा अपर निदेशक के पद पर नौ, संयुक्त निदेशक के 11, उप निदेशक के पद पर 18 अफसरों के प्रमोशन का प्रस्ताव भेजा गया है। 

खंड शिक्षा अधिकारियों के सबसे अधिक 35 पद हैं खाली 
शिक्षा विभाग में खंड शिक्षा अधिकारियों के सबसे अधिक पद 35 पद खाली हैं। विभाग के अधिकारियों के मुताबिक इन पदों पर अधिकारी न होने से प्रभारी अधिकारियों को बैठाया गया है।  

प्रमोशन में इस वजह से हो रही देरी 
विभाग में अधिकारियों की सीआर समय पर न मिलने और शासन स्तर पर अधिकारियों के बदलने की वजह से प्रमोशन में देरी हो रही है। विभाग के कुछ अधिकारियों का कहना है कि प्रमोशन के लिए उनकी जून 2019 में डीपीसी होनी थी, लेकिन अब तक नहीं हुई। जबकि प्रदेश सरकार की ओर से समस्त विभागों में लंबित प्रमोशन का निर्देश जारी किया गया है। इसके बाद भी विभाग प्रमोशन लटकाए हुए है। 

1000 प्रिंसिपल और 550 हेड मास्टर बनेंगे प्रभारी 
शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे के विभाग में प्रिंसिपल और हेडमास्टरों के खाली पदों को प्रमोशन व नियुक्ति के निर्देश के बाद मंगलवार को शिक्षा निदेशालय की ओर से शासन को स्कूलों में इनके खाली पदों पर प्रभारी प्रिंसिपल और हेडमास्टर बनाने का प्रस्ताव शासन को भेज दिया गया है।  

स्कूलों में प्रिंसिपल और हेडमास्टर के डेढ़ हजार से अधिक पद खाली हैं। इन पदों को प्रभारी प्रिंसिपल और हेडमास्टर बनाए जाने हैं। इसके लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। 
– आरके कुंवर शिक्षा निदेशक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *