क्यों कुछ लोग प्याज लहसुन नहीं खाते। जानिए इसका कारण

दुनिया मे दो प्रकार के लोग होते है । एक शाकाहारी और एक मांसाहारी । लेकिन शाकाहारी लोगो मे से कुछ लोग होते है जो प्याज और लहसुन से परहेज करते हैं । हिन्दू धर्म के पंडित , जैन धर्म के लोग और बौद्ध धर्म के लोग अक्सर प्याज और लहसुन नही खाते है । नवरात्र के समय पर 9 दिन का उपवास करने वाले लोग भी 9 दिन तक प्याज और लहसुन नही खाते । पर क्या आप इसका कारण जानते है ? चलिए मैं आपको बताता हूँ ।
पहली बात ये की अगर आप सोचते है कि नवरात्र का व्रत रखने वाले लोग शाकाहारी ही ज्यादा होते है तो आप गलत है । हमारे भारत देश मे सबसे ज्यादा नवरात्रि का त्योहार पश्चिम बंगाल में मनाया जाता है । आपको जानकर हैरानी होगी कि जहाँ हम लोग नवरात्रि में प्याज लहसुन से परहेज करते है वही कुछ बंगाली लोग व्रत के दौरान मछली का सेवन करते है । अलग अलग जगह अलग अलग मान्यताए है ।

प्याज और लहसुन न खाने का तर्क ये है कि प्याज और लहसुन दोनों ही गर्म होते है और शरीर को गर्मी प्रदान करते हैं । इसीलिए आपने अक्सर गौर किया होगा कि कुछ लोग ठंडी के मौसम में लहसुन को भून कर खाते है क्योंकि वो शरीर को गर्मी प्रदान करती है । नवरात्रि के दौरान या किसी धार्मिक अनुसरण के दौरान हमारा ध्यान लगना जरूरी है और प्याज और लहसुन गर्मी देते है इसलिए ध्यान भंग हो सकता है । तो उस समय हमें ऐसी चीजे खाने की नसीहत दी जाती है जो शरीर का तापमान सामान्य रखें । इसलिए पंडित , जैनी , और बौद्ध लोग इस तरह के सभी कंदमूल को नही खाते जो गर्मी देते हो ।

तो ये था कारण की क्यों आखिर लोग लहसुन और प्याज से परहेज करते है । आपमे से अधिकतर लोग इस जानकारी से वंचित होंगे । तो कृपया इसे जितना हो सके फैलाये । सबसे इस जानकारी को साझा करें। इस पोस्ट को शेयर करे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *