२०१९ उत्तराखंड लोकसभा चुनाव खत्म: २०१४ से भी कम हुआ इस बार मतदान  

उत्तराखंड में 17वीं लोकसभा चुनाव के पहले चरण में बृहस्पतिवार को हुए मतदान का अंतिम आंकड़ा शुक्रवार की सुबह जारी किया गया। जो 57.85 प्रतिशत से भी कम है। पांच बजे तक प्रारंभिक सूचना के आधार पर बताया गया था कि उत्तराखंड में 57.85 प्रतिशत मतदान हुआ। लेकिन शुक्रवार सुबह जारी हुए आंकड़े के मुताबिक उत्तराखंड में 57.09 प्रतिशत मतदान हुआ है।

यह आंकड़ा वर्ष 2014 लोकसभा चुनाव की तुलना में कम है। 2014 में उत्तराखंड में 62.15 प्रतिशत मतदान  हुआ था। राज्य की पांचों संसदीय सीटों में सभी 11229 बूथों पर मतदाताओं ने शांतिपूर्ण ढंग से मताधिकार का प्रयोग किया। छिटपुट घटनाओं को छोड़कर प्रदेश के किसी भी बूथ से हिंसक घटनाओं की शिकायतें नहीं मिली है। बृहस्पतिवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच पांच लोकसभा सीटों के लिए सुबह सात बजे मतदान की प्रक्रिया शुरू हुई।

प्रदेश में मतदान की शुरूआत धीमी गति से हुई। पहले दो घंटे के भीतर प्रदेश में 23.78 प्रतिशत मतदान हुआ। नौ बजे के बाद मतदाता वोट डालने के लिए घरों से निकल कर बूथ पर पहुंचे। नौ से एक बजे तक मतदान प्रतिशत बढ़कर 41.27 हो गया। शाम पांच बजे तक प्रदेश में कुल 57.85 प्रतिशत ही वोट पड़े। जो शुक्रवार सुबह केवल 57.09 प्रतिशत में ही सिमट गए।

पांचों सीटों पर चुनाव मैदान में खड़े 52 प्रत्याशियों का भाग्य ईवीएम में बंद हो गया है। इन प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला आगामी 23 मई को सबके सामने आ जाएगा।इस बार प्रदेश के सभी पोलिंग बूथों पर वीवीपैट का इस्तेमाल किया गया। कई बूथों पर वीवीपैट और ईवीएम में तकनीकी खराब आने से मतदान की प्रक्रिया प्रभावित हुई। लेकिन निर्वाचन आयोग ने तत्काल वीवीपैट व ईवीएम को बदल कर मतदान को जारी रखा।प्रदेश भर में 1180 वल्नेरबल और क्रिटिकल बूथों पर लाइव वेबकास्टिंग के जरिये आयोग ने नजर रखी थी। वहीं, 500 बूथों पर सीसीटीवी कैमरों से मतदान प्रक्रिया की रिकॉडिंग की गई।

प्रदेश में कुल सामान्य मतदाता 7765423
प्रदेश में महिला मतदाता-3711220
प्रदेश में पुरूष मतदाता-4053944
कुल सर्विस मतदाता-90858
पांचों लोकसभा सीटों में 11229 पोलिंग बूथ

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *