इस बार भले ही ऑनलाइन सत्र न हो रहा हो, लेकिन 107 नंबर कमरे के 30 विधायकों पर म्यूट होने का संकट फिर भी रहेगा।

विधानसभा की ओर से 107 नंबर कमरे को विधानसभा मंडप का हिस्सा घोषित किया गया है। इतना होने पर भी यह कमरा सभा मंडप से दूर है और वर्चुअल तरीके से ही विधायक सदन से जुड़ पाएंगे।

इन विधायकों की ओर से कही गई बात की रिकॉर्डिंग सभा मंडप में मौजूद टीम ही कर रही होगी। ऐसे में वर्चुअल तकनीक में म्यूट बटन का इस्तेमाल इनकी बात को सदन की कार्यवाही का हिस्सा बनाने से रोकने के लिए किया जा सकता है।
यह संकट विपक्ष के विधायकों पर अधिक है और वर्तमान स्थिति में विपक्ष शायद ही 107 कमरे में बैठने के लिए तैयार हो। विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने विधायकों की इस आशंका को सिरे से खारिज किया। अध्यक्ष के मुताबिक कोशिश यही है कि हर विधायक को अपनी बात कहने का मौका मिले और हर विधायक को सदन सुने।

कार्यमंत्रणा और सर्वदलीय बैठक 20 को:
शीतकालीन सत्र के तहत कार्यमंत्रणा समिति की बैठक 20 दिसंबर को होगी। विधानसभा अध्यक्ष की ओर से इसी दिन सर्वदलीय बैठक भी बुलाई गई है। मंगलवार को विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने विधानसभा मंडप का निरीक्षण किया।

सत्र के लिए पंत भवन के 107 नंबर कमरे को नए सिरे से सामाजिक दूरी का पालन करते हुए 30 लोगों के बैठने लायक बनाया जा रहा है। सामाजिक दूरी के नियम का पालन करते हुए ही विधायकों के बैठने की व्यवस्था की जा रही है। विधानसभा अध्यक्ष के मुताबिक सर्वदलीय बैठक और कार्यमंत्रणा समिति की बैठक 20 दिसंबर को होगी और इसकी सूचना सभी को दे दी गई है। 

सुरक्षा बैठक आज
आज विधानसभा में उच्च अधिकारियों के साथ स्पीकर की बैठक होगी। इसमें सुरक्षा संबंधित मसले को लेकर बातचीत होगी। इसी बैठक में तय होगा कि सैनिटाइजेशन आदि की व्यवस्था क्या होगी। यह भी तय होगा कि सदन में दर्शक, अधिकारियों, अन्य स्टाफ की उपस्थिति का क्या होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *