देहरादून में दीपावली के मौके पर कोरोनेशन अस्पताल 24 घंटे हाईअलर्ट पर रहेगा।

अस्पताल में किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए बर्न, न्यूरो और कार्डियक यूनिट को तैयार रहने को कहा गया है। इसके अलावा इमरजेंसी वार्ड में बेड कम पड़ने पर सर्जिकल वार्ड के बेड का इस्तेमाल किया जाएगा।

दीपावली को देखते हुए कोरोनेशन जिला अस्पताल में तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। अस्पताल के प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ. मनोज उप्रेती ने बताया कि दीपावली के दौरान जलने के मामले सबसे ज्यादा आते हैं। इसलिए बर्न यूनिट को 24 घंटे अलर्ट पर रखा गया है। उन्होंने बताया कि अस्पताल के तीनों सर्जन को भी तैयार रहने को कहा गया।

सभी फिजिशियन, न्यूरो सर्जन और कार्डियोलॉजिस्ट भी 24 घंटे उपलब्ध रहेंगे। सहायक स्टाफ की ड्यूटी भी रोटेशन में लगाई गई है ताकि 24 घंटे मरीजों को तुरंत उपचार मिल सके। उन्होंने बताया कि अस्पताल में इमरजेंसी के 16 बेड हैं। जरूरत पड़ने पर सर्जिकल वार्ड के बेड भी इमरजेंसी के तौर पर इस्तेमाल किए जाएंगे।

बड़ों की देखरेख में दीपावली मनाएं बच्चे:
कोरोनेशन जिला अस्पताल के बर्न सर्जन डॉ. कुश ऐरन ने दीपावली को लेकर एडवाइजरी जारी की है। उन्होंने बच्चों से अकेले दीपावली न मनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि बच्चे केवल बड़ों की देखरेख में ही दीपावली मनाएं। हर साल बच्चों के साथ बड़े पैमाने पर जलने की घटनाएं व अन्य दुर्घटनाएं होती हैं। इसलिए मां-बाप की भी जिम्मेदारी है कि वे बच्चों को अकेला न छोड़ें और उन पर पूरी नजर रखें।

शहर में आठ स्थानों पर रहेगी 108 एंबुलेंस:
धनतेरस और दीपावली के दौरान किसी भी आपातकालीन स्थिति के लिए शहर में आठ स्थानों पर 108 एंबुलेंस तैनात रहेगी। जीएम प्रोजेक्ट अनिल शर्मा ने बताया कि सर्वे चौक, घंटाघर, जाखन, रायपुर, बल्लूपुर चौक, प्रेमनगर, विधानसभा, रेसकोर्स में मुख्य चौराहों पर एंबुलेंस तैनात रहेगी। इस दौरान सभी एंबुलेंस को अलर्ट मोड पर रहने को कहा गया है।

तीन दिनों तक 20 स्थानों पर तैनात रहेगी फायर ब्रिगेड:
दिवाली पर किसी भी हादसे से निपटने के लिए दमकल विभाग ने पूरी तैयारी कर ली है। दिवाली के एक दिन बाद तक जिले के 20 स्थानों पर दमकल वाहन खड़े रहेंगे। इसके साथ ही आपातकाल के लिए 40 जगहों पर जल संस्थान के टैंकरों को तैनात किया जाएगा।

मुख्य अग्निशमन अधिकारी आरएस खाती ने बताया कि दमकल विभाग ने शहर के सभी संस्थानों से सामंजस्य स्थापित कर लिया है। ओनएनजीसी, एफआरआई, ओएफबी आदि के भी वाटर टैंकर यानी अग्निशमन वाहन शहर और आसपास के इलाकों में तैनात रहेंगे। इनमें से आठ स्थान देहरादून शहर के हैं। जबकि, बाकी सेलाकुई, ऋषिकेश, विकासनगर आदि में तैनात किए जाएंगे। जल संस्थान से 40 स्थानों पर पानी के टैंकर खड़े रखने को कहा गया है। ताकि, आपातकाल में पानी लिया जा सके।

सीएफओ खाती ने बताया कि जिलेभर में करीब 800 पटाखों की दुकानों को एनओसी दी गई है। लेकिन, सभी को इस शर्त के साथ कि वे बिक्री निर्धारित समय तक ही करेंगे। साथ ही अग्निशमन विभाग ने जनता से अपील की है कि वह शासन द्वारा निर्धारित समय में ही पटाखे जलाए। उन्होंने बताया कि फायर ब्रिगेड के कर्मचारियों को तैनात किया जाएगा और सिविल डिफेंस के लोग भी विभिन्न स्थानों पर तैनात होंगे। 

शहर में यहां तैनात रहेगी फायर ब्रिगेड :
– दिलाराम बाजार
– घंटाघर 
– प्रेमनगर
– धर्मपुर 
– कोतवाली नगर
– सहस्रधारा क्रॉसिंग 
– सहारनपुर चौक
– पीपल मंडी 

ऋषिकेश में दो स्थानों लाजपतराय मार्ग तिराहा, मुखर्जी मार्ग, मसूरी में गांधी चौक व लंढोर चौक, सेलाकुई में मेन बाजार, सहसपुर व भाऊवाला, विकासनगर में हर्बटपुर, विकासनगर मुख्य बाजार, डाकपत्थर चौराहा, डोईवाला में मुख्य बाजार, त्यूनी बाजार में तीन फायर यूनिट तैनात की जाएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *