वीकेंड के लिए मसूरी कोरोना काल में भी तैयार।

अनलॉक-4.0 के अंतिम चरण में ही अधिकतम ढील मिल चुकी है और एक अक्टूबर से शुरू हो रहे अनलॉक-5.0 में सभी व्यवस्थाओं को सामान्य किया जा सकता है। पर्यटन की तमाम गतिविधियां भी प्रदेश में शुरू की जा चुकी हैं। ऐसे में दो अक्टूबर (शुक्रवार) को सार्वजनिक अवकाश होने के बाद रविवार तक पर्यटकों की आमद बढ़ने की भी उम्मीद है। खासकर मसूरी की तरफ दिल्ली के पर्यटकों की भीड़ उमड़ सकती है। इस स्थिति को देखते हुए जिलाधिकारी ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम की सभी व्यवस्थाएं चाक-चौबंद बनाने को कहा है।

जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि पर्यटकों की आमद की उम्मीद के बीच कोरोना का संक्रमण रफ्तार न पकड़े, इसके लिए उपजिलाधिकारी मसूरी को जरूरी दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं। वह पुलिस के साथ समन्वय बनाकर पर्यटकों को अनिवार्य रूप से मास्क पहनने व शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करने को प्रेरित करेंगे। इसके लिए जगह-जगह पीआरडी के स्वयंसेवकों की तैनाती भी की जाएगी। हालांकि, इस सबके बीच पर्यटकों को अनावश्यक रोका नहीं जाएगा और उनकी सुविधा का ख्याल रखा जाएगा।

मसूरी व ऋषिकेश में रोकथाम का अभियान:

जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव के मुताबिक, मसूरी व ऋषिकेश के उपजिलाधिकारी के कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए स्थानीय भागीदारी सुनिश्चित की है। ऋषिकेश में रोटरी क्लब के साथ कोरोना के मद्देनजर सैपंलिंग कराई गई, जबकि मसूरी में होटल एसोसिएशन के सहयोग से आइवरमैक्टिन दवा बंटवाई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *