नई टिहरी, जिलाधिकारी डाॅ0 वी0 षणमुगम द्वारा कलक्ट्रेट स्थित अपने कार्यालय में ,अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश

नई टिहरी    जिलाधिकारी डाॅ0 वी0 षणमुगम द्वारा कलक्ट्रेट स्थित अपने कार्यालय में सम्बन्धित अधिकारियों के साथ चारधाम परियोजना के अन्तर्गत एनएच-58 एवं एनएच-94 के चौड़ीकरण कार्यो की प्रगति की समीक्षा की गयी तथा अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये। चारधाम परियोजना के चैड़ीकरण में भू-स्खलन व अन्य कारणों हो रही सड़क दुर्घटनाओं को गम्भीरता से लेते हुए जिलाधिकारी ने एनएच-58, एनएच-94 एवं बीआरओ के अधिकारियो को निर्देश दिये कि परियोजना निर्माण जनसुरक्षा एवं लोगों की सम्पत्तियों की सुरक्षा के सभी मानकों को ध्यान में रखकर किया जाय। उन्होने हिदायत दी कि चारधाम परियोजना की प्रगति विधिवत तरीके से लायें लोगों का नुकसान करके नहीं। जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि चारधाम परियोजना का मलबा निर्धारित डम्पिगं जोन में डाला जाय।
मलबा बहकर नुकसान न पहुंचाये इस हेतु सुरक्षा दीवार बनायी जाय। जिस क्षेत्र में रोड़ कटान कार्य चल रहा है वहां सड़क के दोनो ओर आवाजाही रोकने के लिए कार्मिक संकेतक ध्वजों के साथ तैनात किये जायें। रोड़ कटिंग में लगे आपरेटर, मजदूरों आदि की सुरक्षात्मक ढ़ग से कार्य करने की जानकारी हेतु कार्याशाला आयोजित की जाय। जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि भू-स्खलन सम्भावित स्थानों पर परमानेंट जेसीबी व अन्य उपकरण रखे जायें ताकि मलबा हटाने एवं राहत बचाव कार्यो को तत्काल अन्जाम दिया जा सके। रोड़ कटिंग करने से पूर्व सम्बन्धित क्षेत्र के लोगों को सूचना दे दी जाय यदि लोगों को अन्यत्र शिफ्ट किया जाने की आवश्यकता है तो अन्यत्र शिफ्ट किया जाय। जिलाधिकारी ने एई एनएच-58 को निर्देश दिये कि ससमाण गांव की चारधाम परियोजना की जद में आ रही निर्मित सम्पत्ति को एक सप्ताह के भीतर ध्वस्त कर दिया जाय यदि इस कार्य में अक्षम हैं तो फोर्स की डिमाण्ड की जाय। सूर्यकुण्ड-रानीताल रोड़ का एलाईमेंट पांच दिन के भीतर तैयार किया जाय। जिलाधिकारी ने एनएच-94 के चौड़ीकरण कार्यो की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने कमान अधिकारी बीआरओ को निर्देश दिये कि चम्बा टनल के निर्माण में लोगों के घरों को हो रहे नुकसान की जांच हेतु सम्बन्धित तहसीलदार, एई लोनिवि चम्बा, भू-वैज्ञानिक एवं बीआरओ के आथोरिटी ईजीनियर की संयुक्त टीम गठित की जाय। जिलाधिकारी ने एसएलओ एवं कमान अधिकारी बीआरओ को एनएच-94 में सरकारी जमीन पर बने भवनों के नियमानुसार प्रतिकर भुगतान हेतु संयुक्त सर्वे 15 दिनों के भीतर पूर्ण किये जाने के निर्देश दिये।
बैठक में डीएफओ कोकोरोशे, एसएलओ शिवचरण द्विवेदी, कमान अधिकारी बीआरओ यश श्रीवास्तव, डीडीओ आनन्द सिंह भाकुनी, ईई जल संस्थान सतीश चन्द्र नौटियाल, एई एनएच-58 मृत्युन्जय शर्मा एई एनएच-94 केसी जोशी सहित अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *