मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा है कि इस साल के अंत तक कोरोना की वैक्सीन आ जाएगी।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा है कि इस साल के अंत तक कोरोना की वैक्सीन आ जाएगी। प्रदेशवासियों तक इस वैक्सीन को पहुंचाने के लिए कवायद शुरू कर दी गई है। हर 15 दिन में समीक्षा बैठक भी की जाएगी। 

बृहस्पतिवार को एचएनबी मेडिकल विश्वविद्यालय के तीसरे दीक्षांत समारोह में पहुंचे सीएम रावत ने कहा कि यह साल कोरोना की वजह से सभी के लिए बेहद चुनौतीपूर्ण रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन सिंह ने इस साल के अंत तक या नए साल की शुरुआत में कोरोना वैक्सीन आने के संकेत दिए हैं।
राज्य में एक साथ एक करोड़ वैक्सीन तो नहीं मिल पाएंगी, लेकिन वैक्सीन को सभी लोगों तक पहुंचाने के लिए कवायद शुरू कर दी गई है। अभी तक के लिए हिसाब से फ्रंट लाइन पर कोरोना से लड़ रहे वॉरियर्स को यह वैक्सीन देने की योजना है।
समारोह में पहुंचे स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी ने कहा कि केंद्र सरकार ने राज्य को रोडमैप तैयार करने के लिए निर्देश दिए हैं। किस तरह से वैक्सीन दी जाएगी। इसके लिए हर 15 दिन में समीक्षा की जाएगी। 

जल्द ही और सुधर जाएंगी स्वास्थ्य सेवाएं:
मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने पहाड़ में स्वास्थ्य सुविधाओं के बुरे हाल अपनी आंखों से देखे हैं। उनकी नजरों के सामने तमाम ऐसे वाकये हुए हैं, जब इलाज न मिलने की वजह से लोगों की जान चली गई। इसलिए उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं को अपनी प्राथमिकता में रखा हुआ है।

आज प्रदेशभर में करीब 2500 चिकित्सक उपलब्ध हैं। जल्द ही करीब 400 और चिकित्सक मिल जाएंगे। इसके अलावा करीब 1400 नर्सिंग स्टाफ भी नियुक्त होने जा रहा है। प्रदेश में अगले कुछ वर्षों के भीतर मेडिकल और पैरामेडिकल संस्थानों की संख्या में भी इजाफा होने जा रहा है। 

कोरोना से बचाव के लिए होंगी प्रतियोगिताएं:
कोरोना से जंग जीत चुके लोगों के साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा दिखा रहे युवाओं के लिए सरकार जल्द ही प्रतियोगिताएं आयोजित करने जा रही है। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बताया कि इसके लिए योजना के तहत जल्द ही प्रविष्टियां मांगी जाएंगी। उन्होंने सभी लोगों से आह्वान किया कि वह भी जनता के बीच हौसला बढ़ाएं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *