हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव पहुंचे मसूरी, शहर की स्वास्थ्य सुविधा पर जताई चिंता

मसूरी। ख्याति प्राप्त हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव ने कहा कि पहाड़ों की रानी मसूरी की हसीन वादियां व मौसम उन्हें यहां खींच कर ले आता है। यहां शांति व सकून मिलता है और कुछ नया करने के लिए सकारात्मक उर्जा मिलती है।

जानेमाने हास्य कलाकार इन दिनों मसूरी आये है तथा लालबहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी में कार्यक्रम देने आये है। व्यस्त कार्यक्रम से समय निकाल कर उन्होंने कैमल्स बैक रोड जाकर पैदल ही प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद लिया। जैसे ही लोगों ने उन्हें पहचाना तो उनके साथ फोटो खिंचवाने के लिए प्रसंसकों की होड़ लग गई। इस दौरान वे समाजसेविका गीता कुमाई के घर भी गए और  पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि मसूरी वह पहले भी आ चुके हैं यहां का मौसम व शुद्ध हवा हरियाली मन को भाती है। उन्होंने कहा कि यहां के लोग भी अच्छे हैं जिस उत्साह व उर्जा से मिलते हैं खुशी होती है। उन्होंने बताया कि वह इस बार चार- पांच साल बाद आये हैं यहां की शांत वादियों में जहां सकून मिलता है वहीं नये आइडिया मिलते हैं।चारों ओर प्रकृति की हरियाली फैली है। जबकि मैदानी क्षेत्रों में भीड़, हल्ला ट्रेफिक रहता है जिससे शांति नही मिलती। उन्होंने कहा कि जिंदगी में ऐसा काम करो कि लोग कहें भई तुम रहने दो हम करते हैं। कहा कि जो हंसे उसका घर बसा व जिसका घर बसा उससे पूछो कभी हंसा। हंसना योगा की क्रिया है। उन्होंने कहा कि गढ़वाली भाषा उन्हें बहुत अच्छी लगती है। बातचीत में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर भी व्यंग कि कि किसी ने मोदी से पूछा आप हिंदी भाषी नहीं है उसके बाद भी इतनी अच्छी हिंदी कैसे बोल लेते हैं। जिस पर उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आवाज बना कर कहा कि चाय बेचते बेचते हिंदी सीख ली जैसे यहां पहाड़ पर लोग शराब पीते पीते अंग्रेजी बोलने लगते हैं।  उन्होंने पैदल चलते हुए लोगों से मुलाकात भी की व यहां की समस्याओं की जानकारी भी ली जिस पर समाजसेविका गीता कुमाई से बात करते हुए कहा कि यहां पर स्वास्थ्य सुविधा ठीक नहीं है। उन्होंने कहा कि यह चिंतनीय है क्यों कि हर वर्ष लाखों सैलानी यहां घूमने आते हैं लेकिन कभी तबियत खराब हो जाय, हार्ट की बीमारी हो जाये या सड़क दुर्घटना हो जाये तो ऐसे में देहरादून ले जाते तो जानमाल की हानि हो सकती है। यहां पर सभी सुविधाओं से युक्त अस्पताल बनना चाहिए सरकार अच्छा अस्पताल बनाये ताकि लोगों को परेशानी न हों। इस दौरान उन्होंने मसूरी के मौसम का जमकर आनंद लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *