उत्तराखंड,राहुल द्रविड़ सपरिवार सहित गंगा की शरण में

ऋषिकेश : परमार्थ निकेतन में भारतीय राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान पद्श्री और विज्डन क्रिकेटर्स ऑफ द ईयर से पुरस्कृत  राहुल द्रविड़ धर्मपत्नी  विजेता पेंधारकर पुत्र समित द्रविड़ और अन्वय द्रविड़ के साथ  द्रविड़ ने सपरिवार परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती से भेंट कर आशीर्वाद लिया।स्वामी  चिदानन्द सरस्वती और  द्रविड़ ने खेल में युवाओं विशेष कर बेटियों की भूमिका, युवाओं को पर्यावरण एवं नदियों के संरक्षण के लिये प्रेरित करना तथा बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ जैसे अनेक तत्कालिक विषयों पर विश्द चर्चा की।

स्वामी चिदानन्द सरस्वती  ने कहा राहुल द्रविड़ देश के ही नहीं पूरे विश्व के युवाओं के रोल मॉडल है। वे क्रिकेट की पिच पर लम्बे समय तक दीवार के रूप में टिके रहते थे अब पर्यावरण संरक्षण की दीवार बनकर कार्य करें। भारत को ’मेडल के साथ मॉडल’ की नितांत आवश्यकता है। उन्होने कहा कि हमारे देश की प्रतिभाओं ने खेल और अन्य क्षेत्रों में अनेक विश्व रिकार्ड बनाये अब सभी मिलकर प्रदूषण मुक्त, स्वच्छ, स्वस्थ और समृद्ध भारत

 

निर्माण का रिकार्ड बनायें ताकि भारत पुनः विश्व गुरू से गौवरान्वित हो सके। स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने कहा कि हमारे देश के युवाओं के पास कुशलता और योग्यता काबिले तारीफ है, जरूरत है तो उन्हे एक विशेष दिशा देने कि जो देश के रोल माॅडल दे सकते है। स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने कहा कि आप जिस पर क्रिकेट के लिये अद्भुत कार्य कर रहे है अब जल संरक्षण के लिये कार्य करे क्योंकि जिस प्रकार क्रिकेट सब के लिये है उसी प्रकार जल भी सब के लिये है।राहुल द्रविड़ ने कहा कि परमार्थ निकेतन वास्तव में ’दिव्यता से परिपूर्ण दिव्य क्षेत्र है जहां प्रवेश करते ही एक अलौकिक आध्यात्मिक शक्ति का अहसास होता है। उन्होने कहा कि स्वंय को पवित्रता और श्रेष्ठ संकल्पों की ओर अग्रसरित करने के लिये यह स्थान सर्वश्रेष्ठ है। माँ गंगा तट पर आकर हम तन और मन दोनों की निर्मलता का अनुभव कर रहे है। स्वामी चिदानन्द सरस्वती के साथ मिलकर पर्यावरण संरक्षण की पिच पर कार्य करना बेहतर अनुभव होगा मैं इसके लिये उत्साहित हूँ। द्रविड़ ने कहा कि मैं  स्वामी चिदानन्द सरस्वती द्वारा विश्व स्तर पर स्वच्छता एवं जल के लिये किये जा रहे कार्यो से अत्यंत प्रभावित हूँ हम मिलकर एक जल एवं पर्यावरण संरक्षण के लिये नई शुरूआत करेंगे।स्वामी चिदानन्द सरस्वती  ने पर्यावरण संरक्षण का प्रतीक रूद्राक्ष का पौधा  द्रविड़ परिवार को भेंट किया। राहुल द्रविड और परिवार के सदस्यों ने स्वामी चिदानन्द सरस्वती, साध्वी भगवती सरस्वती , नन्दिनी त्रिपाठी  के साथ विश्व स्तर पर स्वच्छ जल एवं स्वच्छता की आपूर्ति हेतु विश्व ग्लोब का जलाभिषेक किया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *